राजनीति

राजनीति

अरविन्द केजरीवाल पर मानहानि का केस, कोर्ट ने दिया पेश होने का आदेश

अरविन्द केजरीवाल अक्सर अपनी किसी न किसी गलती के चलते न सिर्फ राजनीति झमेलों में बल्कि कोर्ट के चक्कर में भी फंस ही जाते है और एक बार फिर से ऐसा हुआ है. क्या हुआ है? चलिए हम आपको बताते है आखिर इस बार केजरीवाल के साथ में क्या हुआ है? दरअसल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया गया है और इसमें केजरीवाल के कई साथ भी शामिल है. उन पर बीजेपी की कई समाज में छवि धूमिल करने का आरोप लगा है.

भारतीय जनता पार्टी के नेता राजीव बब्बर के द्वारा अरविन्द केजरीवाल पर ये आरोप लगाये गये है. इसमें अरविन्द केजरीवाल के साथ में उनकी साथी नेता आतिशी मार्लेना और उन्ही के राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता भी शामिल है.

इन पर आरोप लगाया गया है कि इन्होने भारतीय जनता पार्टी की छति को बनिया, पूर्वांचली और मुस्लिमो के प्रति खराब की है और ये कभी भी मान्य नही होगा. इतना ही नही बब्बर ने ये भी आरोप लगाया है कि इनके द्वारा झूठे आरोप लगे कि बीजेपी ने दिल्ली में वोटर लिस्ट से लोगो के नाम कटवा लिए है जिससे लोगो के अन्दर बीजेपी के प्रति जो छवि थी उसे नुकसान पहुंचा है. अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ लगे इन तमाम आरोपों को कोर्ट ने काफी ज्यादा गंभीरता से लिया है और कोर्ट की तरफ से कहा गया है कि सभी आरोपियों को पेश होना होगा और अपनी अपनी सफाई देनी होगी.

आपको बता दे इससे पीला भी अरविन्द केजरीवाल इस तरह से आरोप लगाकर के फंस चुके है जिसमे उन्हें अरुण जेटली से सार्वजनिक तौर पर माफी भी मांगनी पड़ गयी थी. इस तरह से अरविन्द केजरीवाल बार बार बेबुनियाद आरोप लगाकर बिना सबूत आरोप लगाकर के फंसते रहते है और अपनी छवि वो खुद ही खराब कर लेते है जिसका परिणाम अब एक बार फिर से उनके सामने है.

राहुल गांधी ने दिया आतंकी मसूद अजहर को सम्मान, खुली सभा में कह दिया ऐसा कुछ

कांग्रेस पार्टी लगातार कुछ चीजो को लेकर के घिरती रही है और उसमे सबसे बड़ी चीज है कांग्रेस का लगातार और बार बार पाकिस्तान और उससे जुड़े आतंकी संगठनों के प्रति बेहद ही नरम रूख. हाल ही में राहुल गांधी ने भी ऐसा ही कुछ साबित किया है. फ़िलहाल राहुल गांधी एक सभा को संबोधित कर रहे थे जहाँ पर उन्होंने नरेंद्र मोदी की जमकर के आलोचना की लेकिन जैसे ही जैश के सरगना मसूद अजहर का नाम आया तो उन्होंने बड़े ही सम्मान के साथ में उन्हें ‘मसूद अजहर जी’ कहकर के पुकारा और जैसे ही राहुल गांधी के मुंह से ये बयान निकला तो तुरंत ये बयान मीडिया से लेकर सोशल मीडिया पर हर जगह वायरल हो गया

और सबका बस यही कहना था कि राहुल गांधी कुछ भी बोलने से पहले दस बार सोच ले. ये बात अब उन्होंने सोचकर के बोली है या फिर अनजाने में बोली है लेकिन इसके साथ में काफी कुछ गलत हो गया है,

क्योंकि भारत के सबसे बड़े दुश्मन को ऐसे सम्मान देना कही न कही शहीदों का भी अपमान करने के ही बराबर है. ऐसा पहली बार नही है, इससे पहले भी दिग्विजय सिंह अफजल गुरु के लिए सम्मान जता चुके है और ओसामा बिन लादेन के लिए भी उन्होंने सम्मान भरे शब्दों का प्रयोग किया था जिसके बाद में उनकी भी जमकर के आलोचना की गयी थी और दुबारा से अब वही काम राहुल गांधी के द्वारा कर दिया गया है और ये अपने आप में काफी ज्यादा विवादास्पद है.

खैर अभी तो बीजेपी ने इस पर प्रतिक्रिया देनी भी शुरू कर दी है और लोग इस पर लगातार राहुल गांधी से जवाब भी मांगने लग गये है. हालांकि अब उनके मुंह से या फिर किसी भी कांग्रेस नेता के मुंह से कोई भी जवाब देते हुए बन नही पड़ रहा है.

2019 लोकसभा चुनावों की घोषणा, अधिकतर सर्वे ने माना ‘ये व्यक्ति होगा भारत का नया प्रधानमंत्री’

देश में लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व फिर से पांच साल बाद आ गया है और इसे सारी पार्टियां भी अपने पूरे दमख़म के साथ में उतरने वाली है लेकिन जीतना तो किसी एक को ही है. खैर इन सबके बीच में जब तारीखे बता दी गयी है कि अप्रेल माह में चुनाव चलेंगे और 23 मई आते आते चुनाव के परिणाम भी आ जायेंगे और देश को नया प्रधानमंत्री भी मिल जाएगा लेकिन नया प्रधानमंत्री मिलने से पहले ही उससे जुडी कई सारी पोलिंग भी शुरू हो गयी है.

इसमें एबीपी का सी वोटर से लेकर टाइम्स नाऊ जैसे कई बड़े दिग्गज शामिल है जो जनता का मूड जानने की कोशिश कर रहे है लेकिन अभी हम यहाँ पर सीटो की संख्या पर नही बल्कि बढ़त पर बात कर रहे है. अगर अधिकतम वोटर सर्वेज की बात करे तो हर सर्वे में बीजेपी को बढ़त है और वो हर सर्वे में 250 के आस पास नजर आ रही है

और किसी किसी में तो 300 के करीब भी जा पहुँची है जबकि कांग्रेस की बात की जाए तो पार्टी की सीटे पहले की तुलना में बेहतर दिखाई दे रही है लेकिन ये बहुमत या फिर सरकार बनाने से तो कोसो दूर है. हालाँकि यूपी में बसपा और सपा का गठबंधन मोदी को हल्का झटका जरुर दे रहा है लेकिन बंगाल में ज्यादा सीटे जीतकर मोदी उसे बेलेंस करने की कोशिश जरुर करेंगे. इन सबके बीच में एक बात तो तय हो जाती है कि नरेंद्र मोदी ही देश के अगले प्रधानमंत्री बनेंगे.

ये बात लगभग तय हो गयी है और ऐसी स्थिति में मोदी सरकार ही है जो भारी बहुमत के साथ में जीतती हुई नजर आ रही है और ये अपने आप में काफी कुछ है जो तय करेगा. खैर जो भी है अभी तो जनता का असली मूड चुनावों के बाद ही सामने आने वाला है.

राहुल बोले ‘मोदी सरकार ने राफेल लाने में देरी की इसलिये अभिनन्दन को पुराना प्लेन उडाना पड़ा

इन दिनों में भारतीय एयरफाॅर्स लगातार और बार बार और लगातार किसी न किसी तरह से राजनीतिक विवादों की भेंट चढ़ रही है. अभी हाल ही में मिग की जो नाकामियाँ सामने आ रही है उसके बाद से देश ने लेटेस्ट एयरक्राफ्ट की जरूरत को महसूस किया और उसके बाद में अब फिर से राफेल का वार आर पार शुरू हो गया है. अभी हाल ही में इंडिया टुडे के कोंक्लेव में नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर आज हमारे पास में राफेल होता तो बात ही कुछ और होती.

ये कहकर के उन्होंने कांग्रेस द्वारा राफेल के डील में लगाए जा रहे अड़ंगे पर हल्ला बोला लेकिन अब इसी बात पर राहुल गांधी तमतमा गये क्योंकि राफेल तो उनका सबसे फेवरेट टॉपिक है और इस पर जवाब देते हुए राहुल गांधी ने दनादन तरीके से ट्वीट कर दिया.

राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा ये राफेल लाने में देरी के पीछे की वजह मोदी सरकार है. आपको शर्म नही आती है क्या मोदी जी? आप खुद ही राफेल में होने वाली देरी के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार है. आपने अनिल अम्बानी को 30 हजार करोड़ रूपये की मदद पहुंचने के लिए इसमें देरी की है. उन्होंने ये भी कहा कि इसी वजह से ही आज अभिनन्दन जैसे पायलट्स को इस वजह से आउटडेटेड प्लेन का इस्तेमाल करना पड़ रहा है. राहुल गांधी का ये ट्वीट जैसे ही वायरल हुआ तो लोगो ने भी राहुल को जवाब देना शुरू कर दिया.

लोगो ने जवाब देते हुए कहा कि मोदी सरकार तो अब डील को आगे बढ़ा रही है लेकिन आपने तो पिछले वर्षो में कुछ भी नही किया है यहाँ तक कि फंड की कमी दिखाकर के एयरफाॅर्स से पल्ला तक झाड लिया था. अब जब मोदी सरकार डील करना भी चाह रही है तो उसमे भी अडंगा आप ही लगा रहे है.

अब विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को दिया जोर का झटका

अब भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज मुस्लिम बहुल देशों के कार्यक्रमों में गेस्ट ऑफ ऑनर बनेगी। 23 फरवरी 2019 (शनिवार) को विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया कि ऑर्गनाइजेशन ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉरपोरेशन (ओआईसी) में भारत को गेस्ट ऑनर बनने के लिए न्योता भेजा गया है। सूत्रों की माने तो यह घटनाक्रम पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लिए तगड़े झटके के रूप में देखा जा सकता है और वही देश के लिए और मौजूदा विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के लिए यह पहला मौका होगा, जब वह इस कार्यक्रम में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी। 1 मार्च 2019 को सुषमा स्वराज इस कार्यक्रम में उद्घाटन सत्र में अपना भाषण देंगी।

इस बारे में भारत की ओर से यह कहा गया है कि यह न्यौता देश और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूती प्रदान करेगा। आपको बता दें कि ओआईसी ओआईसी, मुस्लिम देशों की आवाज और उनके हितों की रक्षा करने हेतु संपूर्ण विश्व में जाना जाता है। संयुक्त राष्ट्र (यूएएन) और यूरोपीय संघ (ईयु) में इसके स्थाई सदस्य भी मौजूद है।

तलमीज अहमद जो कि पूर्व राजनयिक है, उन्होंने मुस्लिम देशों के कार्यक्रमों का भारत को बतौर गेस्ट ऑफ ऑनर बुलाया जाना पाकिस्तान के लिए किसी भी बड़े झटके से कम नहीं आंका है। पाकिस्तान ने पहले भी कई बार इस मंच को भारत का अपमान करने के लिए ही इस्तेमाल किया है। सऊदी अरब और अन्य मुस्लिम देश भी यह समझ चुके हैं कि पाकिस्तान से इस तरह के रिश्ते बनाए रखने का कोई भी मतलब नहीं है। साथ ही भारत का अपमान करने की भी कोई बात नहीं बनती।

आपको बता दे भारत और पाक के बीच काफी कुछ होने के बाद भी सम्बन्ध बेहतर करने की पहल चल रही थी लेकिन पाक की नापाक हरकतों के चलते ये सब रोक दिया गया और अब सिर्फ और सिर्फ करारा जवाब ही दिया जा रहा है.

अब दीजिये रोज बस 121 रूपये, बदले में सरकार आपकी बेटी को देगी लाखो

सरकार का काम होता है नागरिको के लिए और उनकी सुरक्षा के लिए कानून कायदे बनाना ताकि उनकी जिन्दगी को और भी ज्यादा आसान बनाया जा सके और कही न कही ये बेहद ही जरुरी भी है. खैर अभी हम बात कर रहे हिया कन्यादान पालिसी के बारे में जो मोदी सरकार द्वारा चलाई गयी एक ऐसी योजना है जो आपको और आपके परिवार को भी काफी लाभ पहुंचा सकती है और इससे आप अपनी बेटी के भविष्य को काफी हद तक सुरक्षित जरुर कर सकते है. इस पालिसी को सामने लाया गया है कन्यादान पालिसी के माध्यम से जिसके तहत आपको हर रोज 121 रूपये जमा करवाने होंगे यानी महीने के कुल 3600 रूपये जमा करवाने होंगे लेकिन इस पैसे को जमा करवाने से आपको क्या फायदा होगा?

तो आपको बता दे कि अगर आप इतना पैसा जमा करवाते है तो आपकी बेटी जब बड़ी हो जाती है तो उसे 25 साल के बाद 27 लाख रूपये मिलेंगे. इन पैसो से आप अपनी बेटी की शादी करा सकते है, उसका घर बसा सकते है और आप उसे अच्छी खासी पढाई भी करा सकते है तो सरकार के द्वारा एलआईसी के माध्यम से लाई गयी इस योजना का लाभ जरुर उठाये.

इसके लिए आप किसी भी एलआईसी के औथोराइज किये गये एजेंट की मदद ले सकते है और कही न कही आज के समय में जब इतनी बड़ी जनसख्या है तो सोशल सिक्यूरिटी उपलद्ध करवाना भी बेहद ही जरूरी है और कही न कही ये लोगो की जिन्दगी में काफी लाभकारी ही सिद्ध होने वाला है. एक समय हुआ करता था जब बेटी के ब्याह के लिए या पढ़ाई के लिए साहूकारो से ब्याज लेना पड़ता था

लेकिन अब काफी कुछ बदला है और सरकार द्वारा की जा रही मदद से लोगो के कामो में काफी हद तक हल्कापन आया है. खैर जो भी है बाकी सब चीजे तो टाइम आने पर ही पता लगेगी अभी आप भारतीय नागरिक होने के नाते इनका लाभ जरुर उठा सकते है.

चार बीघे में फैला है प्रियंका गांधी का आलीशान बंगला, तस्वीरे है बेहद खूबसूरत

प्रियंका गांधी का नाम तो आपने खूब सुन रखा होगा और जो राहुल गांधी की बहन है और देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की बहन है गांधी परिवार के पासमे काफी सम्पति है और उस सम्पति का एक बड़ा हिस्सा जमीनों के रूप में ही है तो आज हम आपको दिखाने जा रहे है प्रियंका गांधी का वो शानदार बँगला जिसे देखकर के एक बार के लिए आप खुद भी कहेंगे कि ये बँगला अपने आप में बड़ा ही गजब है तो चलिए फिर कुछ एक झलकियां देखते है और जानते है इससे जुडी हुई कुछ एक ख़ास बाते सबसे पहले तो आपको बता दे कि ये बँगला शिमला के छाराबादा में स्थित है और इस बंगले के बारे में कहा जाता है कि ये पूरे 4 बीघे के एरिया में है हालांकि बगंला तो उसके बीच में है लेकिन आस पास की जो पूरी 4 बीघे की जमीन है उसे काफी खूबसूरत बनाया गया है और उसका स्वामित्व प्रियंका गांधी रखती है.

एक रिपोर्ट की माने तो ये बंगला आज से लगभग 10 साल पहले 2008 में बनना शुरू हुआ था और लगभग 5 साल में बनकर के सब कुछ तैयार हुआ इस बंगले की कीमत लगभग 20 करोड़ से 50 करोड़ के बीच की मानी जा सकती है.

इसके अलावा इस बंगले के बारे में कहा जाता है कि इसकी बालकनी से सफ़ेद गिरती हुई बर्फ का पूरा व्यू नजर आता है जो इसे और भी ज्यादा खूबसूरत बना देता है और प्रियंका गांधी अपने पति रॉबर्ट वाड्रा के साथ में यहाँ पर इस लाइफ का लुफ्त उठाती है ये फाइव स्टार को भी फेल कर दे ऐसा शानदार बंगला है और गांधी परिवार ने इतना पैसा कमा तो लिया ही है कि वो जगह जगह पर अपने लिए शानदार रहने की जगहे बना ले और ये उसी का ही एक नमूना है.

इन चीजो से एक बात तो साफ़ हो जाती है कि प्रियंका गांधी और रोबर्ट वाड्रा एक बड़ी ही लग्जरी लाइफ जी रहे है हालांकि वाड्रा को काफी केस भी झेलने पड़ रहे है जिनके चलते उनकी काफी बदनामी भी होती है.

अमिताभ बच्चन और आमिर खान ने मेहमानों को ईशा अम्बानी की शादी में खाना परोसा, अब दी ये सफाई

अभी हाल ही में मुकेश अम्बानी की बेटी ईशा अम्बानी की शादी हुई है और मुकेश अम्बानी की बेटी की शादी थी तो जाहिर तौर पर कई बड़े बड़े लोगो का उसमे शामिल होना भी लाजमी ही था और ऐसे में न सिर्फ उद्योग जगत से बल्कि बॉलीवुड से जुड़े हुए भी कई बड़े बड़े लोग इसमें शामिल हुए और उन्होंने इस शादी में काफी बढ़ चढ़कर के हिस्सा भी लिया और शादी का हिस्सा इस सदी के महानायक अमिताभ बच्चन भी बने जिन्हें तो आप सभी बड़े ही अच्छे से जानते होंगे और इस शादी का हिस्सा बनने के दौरान उनकी कुछ फोटोज भी वायरल हो गयी जिसमे वो लोगो को खाना परोसते हुए नजर आ रहे थे तो इसपर अमिताभ बच्चन का काफी मजाक बन गया और लोग कहने लगे देखो मुकेश अम्बानी के घर पर तो अमिताभ बच्चन को भी जाकर के खाना परोसना पड़ता है.

लेकिन सच इन सबसे काफी ज्यादा दूर छुपा हुआ है और उसी को बहार लाना था जो लाया गया है जब किसी ने इसी के सम्बन्ध में ट्वीट किया तो जवाब देने के लिए खुद अमिताभ बच्चन के बेटे अभिषेक बच्चन आये और उन्होंने कहा ये एक सज्जन घोट नाम की परम्परा होती है जिसमे लडकी वाले बारातियों को खाना परोसते है और ये शुभ होता है.

इस वजह से अमिताभ बच्चन और बाकी कुछ लोग इस रस्म को निभाते हुए खाना परोस रहे थे हालाँकि तब तक रायता फैलाने वाले लोग तो अपने हद तक रायता फैला चुके थे अब अभिषेक बच्चन का जवाब सुनकर के सबको समझ आया कि चाहे कितना भी पैसा हो लेकिन किसी भी स्टार से वेटर वाला काम नही करवाया जा सकता है हालाँकि ट्रोल करने वालो को तो बस मौक़ा ही चाहिए होता है और वो बस शुरू हो जाते है.

शादी में बॉलीवुड से जुड़े कई बड़े बड़े लोग शामिल हुए थे जिनमे बच्चन साहब से लेकर आमिर और शाहरुख़ जैसे कई बड़े बड़े नाम शामिल किये जाते है और अब ये सफाई शायद सभी के सभी लोगो के लिए काम में आ जायेगी और लोग उनका मजाक बनाना बंद करेंगे.

 

तलाक लेने के लिए कोर्ट गये तेज प्रताप ने कहा, मेरी पत्नी मुझे गंवार और अकेले में मुझे..

राजनीति में एक के बाद एक नयी उथल पुथल देखने को मिल रही है और सभी लोग अपने अपने तरीके से काम भी कर रहे है जो कही न कही उनके नजरिये से सही और किसी और के नजरिये से गलत होता है लेकिन अभी हम जो आपको बताने जा रहे है वो देखकर के वो जानकर के एक बार के लिए तो आप खुद भी कहेंगे कि ये सब सच में हद ही है क्योंकि राजनीति में अब किसी की निजी जिन्दगी भी बीच रास्ते में आ गयी है और वो व्यक्ति है लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव जिनकी शादी अब से कुछ ही समय पहले ऐश्वर्या नाम की लडकी से हुई थी लेकिन बाद में कुछ खट पट हुई जिसके चलते वो ससुराल छोडकर के चली गयी और फिर दोनों के बीच का झगडा इतना बढ़ा कि ये मीडिया तक भी आ पहुंचा.

लेकिन यहाँ पर आकर के भी ये कोई ठहरने वाला तो नही था यहाँ पर भी आरोपों की झड़ी लगातार लगती रही और तेज प्रताप को घर वालो ने सुलह करने की भी सलाह दी लेकिन तेज प्रताप ने आखिर में आकर के एक और बयान दे दिया जिसने आग में घी का काम किया है तेज प्रताप कहते है कि उनकी पत्नी उनकी बिलकुल भी इज्जत नही करती थी वो उन्हें गंवार तक कह देती थी.

और कहती थी अगर इतनी चिढ है तो मुझे तलाक क्यों नही दे देते हो? इस तरीके से तेज प्रताप यादव ने अपनी दलीले दी है और इस आधार पर कोर्ट से तलाक की मांग की है लेकिन अभी इस पर इव्चार होगा और सुलह की भी कोशिशे तो जाहिर तौर पर की ही जायगी और जब सुलह नही हो पाती है तो सभी जानते है कि तलाक काम मामला कितना लंबा खिंच जाता है और इसी राह पर ही तेज प्रताप और ऐश्वर्या दोनों ही जाते हुए भी दिख रहे है.

खैर बाकी बाते तो आने वाला वक्त ही बता पायेगा कि इनका केस क्या रूख अख्तियार करता है पर अभी जो भी है बिलकुल ही साफ़ दिख रहा है कि सुलह की रत्ती भर भी संभावना नजर नही आती है.