SHARE

इन दिनों में देश में एक ही लहर चल रही है और वो है मोदी लहर. हर किसी की नजर पीएम मोदी पर ही थी क्योंकि लगभग ये तय ही था कि फिर से देश में मोदी पीएम बनेंगे और आखिरकार वो बन भी गये. अब सवाल ये उठता है कि आखिर किन वजहों से नरेंद्र मोदी फिर से देश के प्रधानमंत्री बन गये? चलिए फिर जानते है वो कुछ वजहे जिनके चलते देश की जनता ने फिर से एक बार देश का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुना है.

विजन और प्रतिशोध 

एक तरफ जहाँ नरेंद्र मोदी ने अपने अगले पांच साल का विजन पेश किया और बताया कि हम राष्ट्रीय सुरक्षा से लेकर विकास के मुद्दे पर क्या करेंगे? वही कांग्रेस ने इसके ठीक उलट, बाकी सबने इसके उलट सिर्फ मोदी पर फोकस करके उसे हटाने की मांग करते हुए चुनाव लड़ा जिसे जनता ने सिरे से खारीच कर दिया.

मास्टर योजनाये 

नरेंद्र मोदी द्वारा लाई गयी कुछ एक योजनाये जैसे जन धन योजना, स्टार्ट अप योजना, डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर, प्रधानमंत्री आवास योजना और उज्ज्वला योजना उनका एक अच्छा खासा कॉमन वोट बैंक तैयार किया जो उनके साथ चुनाव के दौरान खड़ा रहा.

विपक्ष में टकराव

विपक्ष अपने एकजुट होने का दिखावा तो करता रहा लेकिन वो कही पर भी एकजुट दिखाई नही दिया. एसपी बीएसपी ने कांग्रेस को साथ नही लिया, कांग्रेस ने आप से गठबंधन नही किया और तो और साउथ में भी ऐसे ही विपक्षी पार्टीया अकेले ही बीजेपी से भिड़ने निकल पड़ी और जबरदस्त पटखनी मिली.

विकास मॉडल 

मोदी सरकार ने देश को एक विकास मॉडल के तौर पर पेश किया है जहाँ पर रेलवे में सुधार हुआ है, सरकारी सेवाओं का लाभ उठाना आसान हुआ है जो कही न कही लोगो के दिमाग में घर कर जाता है और वोट देने पर मजबूर कर देता है.

मोदी की इंटरनेशनल छवि 

पीएम मोदी सिर्फ देश के ही नही विश्व के बड़े नेता बन चुके है जिनकी पुतिन और न्येतान्याहू जैसे नेताओं से अच्छी खासी बनती है और देश की जनता ऐसे वर्ल्ड लीडर को खोना नही चाहती थी जिसके चलते मोदी फैक्टर कई जगहों पर काम कर गया.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY