SHARE

समय और लाइफस्टाइल लोगो के बीच में काफी तेजी के साथ में बदल रही है और इस बदलती हुई लाइफस्टाइल ने लोगो की सेहत पर बहुत ही बुरा असर डाला है. ऐसे में हर किसी को पेट से जुडी समस्या होती रहती है और उनमे एसिडिटी तो सबसे ज्यादा बड़ी दिक्कत है. ऐसे में कई लोगो का पेट भी सुबह सुबह साफ़ नही होता है तो उनके लिए एक बहुत ही साधारण सा उपाय है जो बड़ा ही कारगर साबित हो सकता है. इसके लिए आयुर्वेद में एक बहुत ही ख़ास चूरन बताया गया गया है जिसे त्रिफला चूर्ण कहा जाता है. त्रिफला बनाने के लिए तीन चीजो की जरूरत पड़ती है.

पहला आंवला, दूसरा हरड और आखिर में बहेड़ा. ये आपको कही भी परचून की दूकान पर काफी सहूलियत के साथ में मिल जाए चाहिये. इन तीनो ही चीजो को सम मात्रा में मिलाकर के अच्छे से कूट ले और अगर आपके पास इतना समय न हो कि कूट सके तो बाजार में बना बनाया त्रिफला चूर्ण मिलता है जिसमे पतंजली जैसे बड़े ब्रांड भी शामिल है.

इस चूर्ण को रात को खाना खाने के लगभग 2 घंटे बाद और सोने से ठीक पहले गुनगुने पानी के साथ ले ले. आपको इसके लिए लगभग 10 ग्राम की मात्रा लेनी है जो एक व्यस्क के लिए पर्याप्त है. जब आप तीन से चार दिन लगातार इस चूर्ण का सेवन करेंगे तो आप पाएंगे कि ये आपके पेट में एक तरह से झाडू लगाने का कार्य करता है

जिससे सुबह सुबह आपका पेट बड़ी ही आसानी से साफ़ हो जाता है और एक साफ़ सुथरा पेट आपको कई दर्जनों बीमारियों से बचा लेता है. अगर आपको पेट की समस्या न हो तो भी महीने में 5 से 7 दिन त्रिफला चूर्ण लेना फायदेमंद रहता है और ये आपको कई परेशानियों से बचाकर के रखता है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY