SHARE

अक्सर आपने देखा होगा कि पति किसी न किसी वजह से पत्नी से तलाक मांग लेते है मगर हाल ही में मध्य प्रदेश में ऐसा मामला देखने में आया है जिसने पारिवारिक मूल की जड़े हिलाकर के रख दी है. ये पूरा मामला भोपाल के एक ग्रामीण क्षेत्र का है जहाँ पर एक व्यक्ति अपनी पत्नी को ब्याहकर के लाया था तब वो कुछ भी नही थी और पति खुद पंडिताई करता था और पैसे कमाता था. पति ने अपनी मेहनत की कमाई से पत्नी को पढ़ाया और उसे ऊपर तक पहुंचाया. पत्नी को घर का काम तक करने का प्रेशर नही डाला गया और उसे पढ़ाई करने दी गयी.

धीरे धीरे पढ़ाई करते करते पत्नी ने सब इन्स्पेक्टर की परीक्षा दी और वो पास भी हो गयी. पास होने के बाद में पति और पत्नी दोनों ही को लग रहा था कि सब सही होगा लेकिन नौकरी लगते ही पत्नी के धीरे धीरे तेवर ही बदल गये. पत्नी का कहना है कि पति उसका एक पंडित है और अब उसकी हैसियत उसे रखने की नही है, वो अब उससे तलाक लेना चाहती है.

वही पति का आरोप है कि उसने पत्नी को पढ़ाया लिखाया और आज वो जो कुछ भी है उसी की वजह से है उसने उसकी कोचिंग की फीस से लेकर सब कुछ भरा यहाँ तक कि वो वो घर में भी कोई काम तक नही करती थी. इसके बाद में पति और पत्नी विधि न्यायालय पहुंचे है जहाँ पर इनकी कौंसिलिंग की जा रही है और दोनों के बीच सुलह के प्रयास भी किये जा रहे है.

अगर रिपोर्ट्स की माने तो ऐसा होता है जब भी कोई महिला अधिक ऊँचे ओहदे या रूतबे पर पहुँच जाती है तो वो अपने से कम रैंक वाले पति के साथ में रहना पसंद नही करती है. इसके आंकड़े दिन ब दिन बढ़ रहे है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY