SHARE

जम्मू कश्मीर में इन दिनों में माहौल काफी गर्म है और सेना और हिन्दुस्तान के शत्रुओ के बीच में लगातार युद्ध छिड़ा हुआ है. हर कोई चाहता है पुलवामा में किसी न किसी तरह से दुश्मनों को पस्त किया जाए उनका निशान तक मिटा दिया जाए. इसी बीच खबर आयी कि सेना ने इसमें कामयाबी हासिल भी की है यहाँ पर जैश के कमांडर को खतम कर दिया गया है और आगे भी एनकाउंटर की प्रक्रिया जारी है लेकिन इसी बीच कश्मीर में कुछ लोगो ने अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया.

सेना की टुकड़ी जो सफाया करने निकली थी उन पर कश्मीर के लोकल लोग लगातार पत्थर बरसा रहे है और ऐसे वक्त में भी माइक पर सेना के लोग चीख चीख कर के उन्हें आगाह कर रहे है कि आप लोग अपने अपने घरो में चले जाए, आपके घर वाले आपके पिता आपका घर पर इन्तजार कर रहे है.

यहाँ पर आपको नुकसान हो रहा है लेकिन इसके बावजूद ये लोकल नौजवान इनकी मदद किये जा रहे है और ऐसे समय में जब आप इतनी कठिन स्थिति से गुजरते है तो दुश्मन आप पर हावी होने लग जाता है. ये सब होना लाजमी सी बात भी है पर सेना के लोग ऐसी स्थिति में भी दुश्मनों के सामने खड़े है और उनसे लोहा ले रहे है जिसके आगे कोई भी नमन कर दे, पर ऐसे में पत्थरबाजो को कैसे समझाया जाए कि ये सब ठीक नही है, इससे उनका कश्मीर और उनका भविष्य दोनों ही खराब हो जाने वाला है.

आखिर फ़ौज भी उनकी हिफाजत के लिए ही लगाई गयी है लेकिन जब तक इनका ब्रेनवाश होने से रोका नही जाता है तब तक कुछ भी नही हो सकता. खैर फ़ौज तो अभी तक अपना काम कर ही रही है और लगातार एनकाउटर का काम किया जा रहा है जिसमे कामयाबी भी मिली है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY